क्या विश्वविद्यालय की फाइनल ईयर एग्जाम होंगी, छात्रों में यूजीसी की गाइडलाइन को लेकर असमंजस

क्या विश्वविद्यालय की फाइनल ईयर एग्जाम होंगी

राजस्थान सरकार ने यूजी, पीजी और तकनीकी एग्जाम रद्द करने के बाद यूजीसी की गाइडलाइन ने प्रदेश के 15 लाख छात्रों को असमंजस में डाल दिया है की उनकी एग्जाम होंगी या नहीं। पहले राज्य सरकार ने बिना परीक्षा के अगली अगली क्लास में प्रमोट करने का निर्णय लिया था। लेकिन अब ुग्वक की गाइडलाइन में सितम्बर तक एग्जाम करवाने को कहा हैं। इसके बाद सरकार के सामने भी समस्या है की क्या करे। इसके बाद शिक्षा विभाग अब गाइडलाइन का अध्ययन करेगा और मुख़्यमंत्री स्तर पर ही स्नातक और स्नात्कोत्तर परीक्षाओं का निर्णय लिया जायेगा।

2019-20 के सत्र के एडमिशन के अनुसार उच्च शिक्षा में 15 लाख विद्यार्थी हैं। अकेले राजस्थान यूनिवर्सिटी में ही यूजी रेगुलर एंड प्राइवेट बीए, बीएससी और बीकॉम के 5 लाख छात्र है। इसके अलावा अन्य यूनिवर्सिटी और तकनीकी और लॉ कॉलेज के विद्यार्थी अलग है। तो ऐसे में उच्च शिक्षा विभाग के लिए यूजी और पीजी फाइनल ईयर की एग्जाम करवाना आसान नहीं होगा। इससे कोरोना महामारी के संक्रमण का खतरा और भी बढ़ जाता है।

source: Dainik Bhaskar

राजस्थान यूजी, पीजी फाइनल ईयर एग्जाम होंगे या नहीं

राजस्थान सरकार ने पिछले दिनों आदेश जारी कर स्नातक और स्नातकोत्तर के फाइनल ईयर की एग्जाम कैंसिल करने का फैसला लिया था।
पर उसके बाद यूजीसी ने स्नातक और स्नातकोत्तर की फाइनल ईयर परीक्षाओं को लेकर गाइडलाइन जारी। उसके अनुसार स्नातक और स्नातकोत्तर के फाइनल ईयर की एग्जाम सितम्बर अंत तक करवायी जाये। अब राज्य के लगभग 15 लाख छात्र इस असमंजस में है की उनकी फाइनल ईयर की एग्जाम होंगी या नहीं। राजस्थान शिक्षा विभाग ने इसको लेकर अब तक कोई नया फैसला नहीं लिया।

उच्च शिक्षा मंत्री और उच्च एवं तकनीकी सचिव ने कहा की यूजीसी की नई गाइडलाइन का अध्ध्यन किया जा रहा है और जल्द ही यूजी, पीजी और तकनीकी फाइनल ईयर एग्जाम के बारे में फैसला लिया जायेगा।

यूजीसी की नई गाइडलाइन के अनुसार सितम्बर तक करवाने होंगे एग्जाम

यूजीसी ने पिछले दिनों नई गाइडलाइन जारी करके कहा था की यूजी, पीजी की बची हुई एग्जाम सितम्बर अंत तक करवायी जाये। जबकी इससे पहले राजस्थान सरकार ने फैसला किया थे की एग्जाम नहीं होंगे। और इसको लेकर विश्वविद्यालयों फाइनल ईयर एग्जाम कैंसिल करने के नोटिफिकेशन भी जारी कर दिए थे। उसके बाद यूजीसी ने एग्जाम सितम्बर तक करवाने की गाइडलाइन जारी कर दी। ऐसे में अब कॉलेज प्रशासन और विद्यार्थियों को प्रदेश सरकार के फैसले के इंतज़ार है।

Source: Facebook

मिनिस्टर ने यूजीसी की नई गाइडलाइन अपने फेसबुक पेज पर साँझा करते हुए बताया की यूजी और पीजी फाइनल ईयर एग्जाम 30 सितम्बर तक करवाई जाये। विश्वविद्यालय इन परीक्षाओं का आयोजन ऑनलाइन या ऑफलाइन या दोनों के मिश्रण से भी करवा सकता है। इसके लिए गृह मंत्रालय और स्वास्थ्य मंत्रालय ने SOP तैयार किया है।

Leave a Comment